• Home
  • |
  • Contact Us- 9454800865, 9454853267
  • |

♦ अच्छी शिक्षा से ही बनेगा देश का भविष्य

♦ एक विद्यालय के वार्षिकोत्सव समारोह में की शिरकत

(Ambedkar Nagar, 11 Mar), बच्चों की उच्चकोटि की शिक्षा के लिए गरीबी को चुनौती के रूप में स्वीकार करें। बच्चों की पढ़ाई में कोई कटौती न करें भले ही हमे अपना पेट क्यूं न काटना पड़े। अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा न दिलानें वाले माता पिता कभी उनके हितैषी नही हो सकते बल्कि वे उनके दुश्मन हैं। यह बातें प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने रविवार को एमजी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मौहरिया खानपुर के वार्षिकोत्सव समारोह को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुए कही। शिक्षा की महत्ता पर जोर देते हुए कहा कि हर माता पिता का यह कर्तव्य है कि वह अपने बच्चों को अच्छी अच्छी तरह शिक्षित करें ताकि उसके भविष्य का सही रूप से निर्माण हो सके। शिक्षा के लिए बेटे व बेटी में कोई अन्तर न रखें। अच्छी शिक्षा के लिए यदि बच्चों को बाहर भी भेजना हो तो उन्हें बिना हिचकिचाहट के भेंजे। ऐसा करने से ही हमारा देश फिर से सोने की चिड़िया बन पायेगा तथा धर्म गुरू कहलायेगा। उन्होने कहा कि शिक्षित व्यक्ति ही अच्छे व बुरे की पहचान करने में सक्षम होता है तथा सही समय पर सही निर्णय ले सकता है। उन्होनें भगवान बुद्ध के ’’अद्य दीपो भव’’ कथन का निहितार्थ बताते हुए कहा कि प्रकाश वहीं होता है जहां दीपक जलता है अर्थात ज्ञान रूपी प्रकाश वहीं पर फैलता है जहां शिक्षा होती है। उन्होने लोगों से इसका अनुसरण करने का आहवान किया। मंत्री ने जिले में शिक्षा के प्रसार पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि यहां अच्छे विद्यालयों के होने के कारण शिक्षा की ज्योति घर घर पंहुच रही है। प्रदेश में सपा बसपा गठबन्धन पर पूछे गये एक सवाल के जवाब में उन्होने कहा कि दोनो पार्टियां अपना अस्तित्व खो चुकी हैं। वे अब अपने खोये हुए अस्तित्व को पाने के लिए संघर्ष कर रही हैं। इसके पूर्व विद्यालय के संस्थापक हरिराम मौर्या ने विद्यालय परिसर में पंहुचने पर मंत्री का स्वागत किया। इस दौरान जिलाध्यक्ष शिवनायक वर्मा, मनोज कुमार गुप्ता, सुदीप शुक्ला, कमलेश मौर्या, नगर पालिका अध्यक्ष सरिता गुप्ता समेत बड़ी संख्या में विद्यालय परिवार के सदस्य व अन्य लोग मौजूद रहे।