• Home
  • |
  • Contact Us- 9454800865, 9454853267
  • |

रमेश, जुगनू, आनन्द व भीम भी सपा में शामिल


(Ambedkar Nagar, 11 Jan),  समाजवादी पार्टी ने जिले में बसपा को करारा झटका दिया है। पूर्व मन्त्री राममूर्ति वर्मा की पहल पर बसपा से जुड़े कई नेताओ को सपा की सदस्यता दिलाई गई। सपा में शामिल हुए सभी नेताओ ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी मुलाकत की। बसपा छोड़ सपा में शामिल होने वालों में पूर्व सांसद राकेश पांडेय के करीबी माने जाने वाले व पूर्व विधायक अकबर हुसैन बाबर के पुत्र फरहत अब्बास, हाजी अकमल उर्फ जुगनू, व्यापारी नेता रमेश सेठ, भीम निषाद व आनन्द वर्मा के नाम प्रमुख हैं। रमेश सेठ निकाय चुनाव के दौरान ही बसपा से किनारा कस चुके थे और भाजपा में शामिल होने का प्रयास कर रहे थे ।रमेश को पार्टी में लाकर सपा ने दयाशंकर मद्धेशिया की रिक्ति को पाटने का प्रयास किया है। कभी रमेश सेठ को बसपा प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर का भी करीबी माना जाता रहा है। भीम निषाद अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए अब तक कई दलों की राह देख चुके हैं।निकाय चुनाव के दौरान अकबरपुर में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में भाजपा के बाद दूसरे स्थान पर रहे जुगनू का नाम अचानक सुर्खियों में आ गया था। हालांकि इससे पूर्व भी वे चर्चित रहे है लेकिन तब वह मामला अलग था। आंनद वर्मा को भी बसपा विधान मंडल दल के नेता लालजी वर्मा का करीबी माना जाता रहा है । उन्ही के सहयोग से उन्होंने कटेहरी से ब्लाक प्रमुख का चुनाव भी लड़ा था लेकिन निकाय चुनाव के दौरान अचानक बदले घटनाक्रम में आनंद ने अपनी माँ को सपा से प्रत्याशी बनवा दिया । तभी से उनके सपा में शामिल होने की चर्चा आम हो चली थी। इस दौरान सपा नेता अरविंद पांडेय , राजितराम यादव, जंग बहादुर यादव आदि मौजूद रहे।