कैसी पढाई कैसा ज्ञान

ayodhyasamachar

मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाये थे अवधेश

(Faizabad, 25 June), आपातकाल के दौरान जेल मे निरुद्ध रहे राजनीतिक बंदियों के साथ हुए जुल्म व मानसिक प्रताड़ना दिये जाने की कुछ बानगी हकीकत में बयां करने के लिए काफी है। फैजाबाद जेल में बंद रहने के दौरान अवधेश प्रसाद की मां का निधन हो गया। अवधेश प्रसाद ने मां के अंतिम संस्कार में शामिल होने का प्रार्थना पत्र दिया


Read More
ayodhyasamachar

कार्यकर्ताओं ने जेल से ही दायर की थी बंधी प्रत्यक्षीकरण याचिका

(Faizabad, 25 June), पुलिस ने 24 जुलाई 1973 को थाना कोतवाली में एफआईआर दर्ज कर 18 लोगो को अभियुक्त बनाया था जिन्हें क्रमशः घरों से पकड़ा गया लेकिन पुलिस की कहानी में चैक क्षेत्र के मोहल्ला टकसाल स्थित रामलीला मैदान में प्रातः 6 बजे सरकार विरोधी मीटिंग करना और नारे लगाने का आरोप लगाया गया था।


Read More
ayodhyasamachar

आपातकाल के दौरान जेल में ही मंत्री बन गये थे अवधेश प्रसाद

(Faizabad, 25 June), यू तों आपातकाल के बाद 1977 में प्रदेश में बनी जनता पार्टी की सरकार में मुख्यमंत्री रामनरेश यादव के मंत्री मंडल में अवधेश प्रसाद को राज्य मंत्री बनाया गया। लेकिन जेल में निरुद्ध रहे राजनीतिक कार्यकर्ता ही यह बात जानते है कि अवधेश प्रसाद को


Read More
ayodhyasamachar

बहुतों की उजड़ी गृहस्थी अब तक न ठीक हो पायी

(Faizabad, 25 June), आपातकाल लागू होने से पूर्व से ही विपक्ष की राजनीति में सक्रिय भागीदारी करने वाले बहुतायत लोगों ने आपातकाल के दौरान जेल की यातनाएं भी झेली। आपातकाल हटने के बाद भी तमाम लोग गर्दिशी हालत के शिकार रहे।


Read More
ayodhyasamachar

राजनारायण की ही याचिका पर रद्द हुआ था इंदिरा गांधी का चुनाव

(Faizabad, 25 June), वर्ष 1971 के लोकसभा चुनाव में रायबरेली से चुनाव लड़ रही प्रधानमंत्री रही इंदिरा गांधी के खिलाफ प्रख्यात समाजवादी जुझारु नेता राजनारायण चुनाव लड़े थे। गलत हठकंडे अपनाकर चुनाव जीती इंदिरागांधी के चुनाव को अवैध करार देने के लिए राजनारायन ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी।


Read More
ayodhyasamachar

हर तबके में बंदहवासी का आलम व माजरा जानने की उत्सुकता

(Faizabad, 25 June), भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में काला दिन कहे जाने वाले आपातकाल की घोषणा अब से 41 वर्ष पूर्व 25/26 जून की रात तत्कालीन प्रधानमंत्री रही इंदिरागांधी के अनुशंशा पर हुई थी। यह पहला मौका था जब देश में आंतरिक व सियासी कारणों से आपातकाल लागू हुआ था।


Read More
ayodhyasamachar

प्रताप का हर कालम अंग्रेजो का सिरदर्द और ताकत था मजदूरो का

वर्तमान शिक्षा प्रणाली की वजह से शायद हम अपने पूर्वजों को भूलते जा रहे है। अयोध्या समाचार के इस कालम में एक ऐसे पत्रकार की कहानी आपकों सुनाते है जिसकी कलम की धार तरवाल से भी तेज थी। जिनके लेखों ने क्रान्तिकारी पैदा किये। कानपुर के गणेश शंकर विद्यार्थी और उनका समाचार पत्र प्रताप आज भी इतिहास के पन्नों में अमर है।


Read More
ayodhyasamachar

जीन्स टाप यहां धोती कुर्ता वहां

(1 MAR) फैजाबाद। साजिशन देश को सांस्कारिक तौर पर कंगाल करने की कवायद का नजीजा है कि विदेशियों का पहनावा जीन्स टाप यहां प्रचलित ही नहीं हुआ बल्कि खूब बढ़ता जा रहा है। जबकि संस्कार बिगड़ने की साजिश करने वाले देश भारतीय समाज की वेशभूषा धोती, सलवार कुर्ता, साड़ी आदि तेजी सें अंगीकार कर रहे है।


Read More
ayodhyasamachar

डा लोहिया की मृत्यु से आहत सोशलिस्टों ने सरकार से वापस लिया था सर्मथन

फैजाबाद। आजाद भारत में 1967 में हुई कांग्रेस पार्टी में टूटन के बाद चैधरी चरण सिंह के मुख्यमंत्रित्व काल में उत्तर प्रदेश में बनी संविद्ध सरकार 1969 में सोशलिस्टों के सर्मथन वापसी के कारण गिर गई। कांग्रेस के चन्द्रभान गुप्ता पुनः उत्तर प्रदेश के मुख्मंत्री बने थे। 


Read More
ayodhyasamachar

“मोहल्लें मे मौजूद पूर्व सांसदो तथा विधायकों के घरो से लोग है अनजान

फैजाबाद। मौजूदा दौर की सतही पढाई का नतीजा है कि बहुतायत लोग अज्ञानता की ओर बढते जा रहे है। आम लोगो की बात दूर देश और समाज के लिए जूझने का दावा करने वाली सियासी 


Read More
ayodhyasamachar

महान शिक्षाविद् व समाजवादी की कर्मभूमि रहा है फैजाबाद

फैजाबाद। अतीत से अनजान होने की हालत यह है कि दूसरों का ज्ञान का उजियारा दिखाने वाली जमात को बाहरी तो दूर इस धरती से जुड़े पुरोधा तक की सुधि नही है।


Read More
ayodhyasamachar

शिक्षा दिवस मनाने की औपचारिकता तक सिमट गया कर्तव्य

शिक्षक दिवस व शिक्षा दिवस मनाने की औपचाकिता शिक्षण संस्थाओं शिक्षकों शिक्षा जगत से जुडे़ कुछ लोगों ने पूरी की। संयोग से साल यानी 2015 का शिक्षक दिवस और श्रीकृष्ण जन्माष्टमी एक ही दिन सितम्बर को मनाया गया।


Read More