झरोखा अतीत का

ayodhyasamachar

रंगून के जुबली हाल में नेताजी सुभाष चंद बोस ने दिया ऐतिहासिक भाषण

अयोध्या। स्वतंत्रता संग्राम के मेरे साथियों, स्वतंत्रता बलिदान मांगती है। आपने आजादी के लिए बहुत त्याग किया है किन्तु अभी प्राणों की आहूति देना शेष है। आजादी को आज अपने शीश पुष्प की तरह चढ़ा देने वाले पुजारियों की आवश्यकता है। ऐसे नौजवानों की आवश्यकता है जो अपना सिर काटकर स्वाधीनता की देवी को भेंट चढ़ा दे।


Read More
ayodhyasamachar

विरोध का असर रहा कि अंग्रेजों को लग गया कि आसान नहीं अब भारत पर हकूमत करना

अयोध्या। 23 अगस्त 1945 को टोकियों रेडियों से एक संदेश प्रसारित हुआ। नेताजी सुभाष चन्द्र बोस हवाई जहाज से मंचूरिया की तरफ जा रहे थे। इस सफर के दौरान वे लापता हो गये। इसके बाद नवम्बर 1945 को आजाद हिंद फौज पर मुकदमा चलाया जाने लगा।


Read More
ayodhyasamachar

मुकदमें दौरान जनता लगा रही थी नारा, लाल किले से आई आवाज सहगल, ढिल्लन व शाहनवाज

अयोध्या। नवम्बर 1945 से लेकर मई 1946 तक आजाद हिंद फौज के अधिकारियों के उपर लगभग दस मुकदमें चले। जिसमें पहला मुकदमा दिल्ली के लाल किले में कर्नल प्रेम सहगल, कर्नल गुरुबक्श सिंह तथा मेजर जनरल शाहनवाज खान पर चला।


Read More
ayodhyasamachar

आजाद हिंद फौज ने अंडमान व निकोबार में फहराया तिरंगा, लगतार कई युद्धों में अं

अयोध्या। एक तरफ अंग्रेजी सेना के पास बम बर्षक विमान, अत्याधुनिक असलहे, बंकर और दूसरी तरफ आजाद हिंद फौज के बाद पुराने तकनीक के हथियार। बमबारी के बाद बारिश से भीगी रसद भी तबाह हो गयी थी


Read More
ayodhyasamachar

सुभाष चन्द्र बोस के व्यक्तित्व से प्रभावित हुआ एल्डाफ हिटलर

अयोध्या। अगर व्यक्तित्व में विशालता हो तो उसका असर किसी भी शख्सित को प्रभावित कर देता है। नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का व्यक्तित्व का ही असर था कि जिस एल्डाफ हिटलर को न सुनने की आदत नहीं थी।


Read More